अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) टी-20 वर्ल्ड कप के भाग्य का फैसला अब तक नहीं कर पाई है, तो दूसरी तरफ भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस साल आईपीएल की मेजबानी के लिए अपनी उम्मीद नहीं छोड़ी है और वह हरसंभव कोशिश कर रहा है.

इस साल अक्टूबर-नवंबर में निर्धारित टी-20 वर्ल्ड कप पर आईसीसी कोई फैसला नहीं ले पाई है. आईसीसी बोर्ड की बुधवार को टेलिकॉन्फ्रेंस के जरिए हुई बैठक में मौजूदा टी-20 वर्ल्ड कप पर अगले महीने तक फैसला टाल दिया गया.

बीसीसीआई अपने होम सीजन और आईपीएल की योजना के बारे में कुछ स्पष्टता पाने के लिए आईसीसी की 10 जून की बैठक का इंतजार कर रहा था.

इधर, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने राज्य संघों को पत्र लिखकर कहा कि वे आईपीएल के भविष्य को लेकर जल्दी ही फैसला करेंगे. खाली स्टेडियम में ही सही, बीसीसीआई इस टी-20 टूर्नामेंट की मेजबानी करने के लिए तैयार है.

इस साल आईपीएल की मेजबानी की संभावना से जुड़े गांगुली के पत्र के मुताबिक, ‘बीसीसीआई यह सुनिश्चित करने के लिए सभी संभावित विकल्पों पर काम कर रहा है, ताकि इस साल आईपीएल कराया जा सके. भले ही यह टूर्नामेंट खाली स्टेडियम में कराना पड़े. प्रशंसक, फ्रेंचाइजी, खिलाड़ी, प्रसारणकर्ता, प्रायोजक और अन्य सभी हितधारक इस दिशा में उत्सुकता से देख रहे हैं.

पत्र के अनुसार, ‘हाल ही में आईपीएल में भाग लेने वाले भारत और अन्य देशों के कई खिलाड़ियों ने भी इस साल के आईपीएल का हिस्सा बनने के लिए अपनी उत्सुकता दिखाई है. हम आशावादी हैं और बीसीसीआई जल्द ही इसके भविष्य को लेकर फैसला करेगा.’

READ:  मुंबई: धारावी में कम हुई कोरोना की रफ्तार, 6 दिन में एक भी मरीज की नहीं गई जान

यह भी कहा गया है कि बीसीसीआई भारत में क्रिकेट को फिर से शुरू करने के लिए एक मानक संचालन प्रक्रिया (SOP) लाने की तैयारी में है. हालांकि पदाधिकारी इसे अंतिम रूप नहीं दे पाए हैं. SOP का लक्ष्य मुख्य रूप से स्थानीय स्तर पर क्रिकेट को फिर से शुरू करना है.

पत्र में आगे लिखा गया है, ‘यह SOP सभी संघों को अपने संबंधित क्षेत्रों में क्रिकेट को फिर से शुरू करने में मदद करेगा. बीसीसीआई ने इस एसओपी को तैयार करने के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों को लगाया है.’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here