शशांक मनोहर (Shashank Manohar) के आईसीसी चेयरमैन पद से इस्‍तीफा देने के बाद अब जल्‍द ही चुनाव होने वाले हैं

नई दिल्‍ली. इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आईसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर (ICC Chairman Shashank Manohar) ने आखिरकार अपने पद से इस्तीफा दे दिया. शशांक मनोहर दो बार आईसीसी के चेयरमैन रहे हैं. शशांक के इस्तीफे के बाद डिप्टी चेयरमैन इमरान ख्वाजा इस पद को संभालेंगे. जल्द ही आईसीसी चेयरमैन पद के लिए चुनाव होने वाला है, जिसे कुछ हफ्तों में आईसीसी बोर्ड मंजूरी दे सकता है.

बीसीसीआई (BCCI) अध्‍यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को इस पद का मुख्‍य दावेदार माना जा रहा है. अगर वह चेयरमैन के इस मुकाबले में शामिल होते हैं तो उन्‍हें इंग्‍लैंड एवं वेल्‍स क्रिकेट बोर्ड के पूर्व चेयरमैन 72 साल के कोलिन ग्रेव्‍स से चुनौती मिल सकती है. वेस्टइंडीज क्रिकेट के पूर्व प्रमुख डेव कैमरन, न्यूजीलैंड के ग्रेगोर बार्कले, क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के क्रिस नेनजानी भी इस पद को लेकर रुचि दिखा चुके हैं

आईसीसी चेयरमैन के मजबूत दावेदार
कोरोना वायरस (Coronavirus) से क्रिकेट भी बुरी तरह जूझ रहा है और कई दिग्‍गज पहले भी कह चुके हैं कि इस मुश्किल समय में क्रिकेट को संभालने के लिए सौरव गांगुली जैसे लीडर की जरूरत है. वही देखा जाए तो राज्य और बीसीसीआई में पदाधिकारी के तौर पर गांगुली का छह साल का कार्यकाल 31 जुलाई को खत्म हो रहा है और वह आईसीसी चेयरमैन पद के लिए दावेदारी पेश करने के भी पात्र हैं. हालांकि यह भी देखना होगा कि उच्‍चतम न्‍यायालय उन्‍हें कूलिंग ऑफ पीरियड में छूट देकर बीसीसीआई अध्‍यक्ष पद पर बने रहने का मौका देता है या नहीं.

READ:  दिल्ली हिंसाचार; मोदींचे शांततेचे आवाहन!!!

शशांक मनोहर से नाराज था बीसीसीआई

बता दें हाल ही में खबर आई थी कि बीसीसीआई शशांक मनोहर (Shashank Manohar) से नाराज था. बीसीसीआई के एक अधिकारी ने शशांक मनोहर पर जानबूझकर टी20 वर्ल्ड कप के आयोजन के मुद्दे पर अपनी टांग अड़ाने का आरोप लगाया था. बीसीसीआई का मानना था कि टी20 वर्ल्ड कप पर जल्दी फैसला नहीं लिया जा रहा है, जिसका असर आईपीएल 2020 की तैयारियों पर पड़ सकता है.

बीसीसीआई का मानना है कि अगर आईसीसी अगर टी20 वर्ल्ड कप पर जल्द फैसला करती है तो बोर्ड की आईपीएल (IPL 2020) संचालन टीम संभावित मेजबानों को लेकर तैयारी शुरू कर सकती है जिसमें श्रीलंका भी शामिल होगा जिसके पास प्रेमदासा, पल्लेकल और हंबनटोटा मैदान हैं. यूएई के मुकाबले श्रीलंका को कम खर्चीले मेजबान के रूप में देखा जा रहा है और सुनील गावस्कर भी कह चुके हैं कि सितंबर में आईपीएल कराने के लिए श्रीलंका ही आदर्श देश होगा.

बता दें बीसीसीआई और शशांक मनोहर के बीच कई मतभेद रहे हैं. नागपुर के वकील मनोहर के बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन से कटु रिश्ते रहे हैं जिसके बाद उनका बीसीसीआई से हमेशा कटुता भरा रिश्ता रहा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here