महाराष्ट्र ग्राम पंचायत (Maharashtra Gram Panchayat Election Results 2021) के चुनाव में बीजेपी ने भी बेहतर प्रदर्शन किया है. अगर बीजेपी के दावे को ही सही मान लिया जाए, तब भी यह साफ है कि शिवसेना के नेतृत्व वाला सत्ताधारी गठबंधन महाविकास अघाड़ी (एमवीए) सबसे बड़े गठबंधन के तौर पर उभरी है.

मुंबई. महाराष्ट्र में हुए ग्राम पंचायत चुनाव (Maharashtra Gram Panchayat Election Results 2021) के नतीजे अब लगभग साफ हो गए हैं, लेकिन फाइनल डेटा आने में वक्त लगेगा. इस बीच शिवसेना (Shiv Sena) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) दोनों ही सबसे अधिक सीटें जीतने के दावे कर रही है. शिवसेना नेता और महाराष्ट्र अघाड़ी सरकार में ग्राम विकास राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) का दावा है कि उनकी पार्टी ग्राम पंचायत चुनाव में सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी बनी है. अब्दुल सत्तार ने विवादास्पद बयान देते हुए कहा, ‘बीजेपी की बड़ी पार्टी होने का दावा झूठा है. बीजेपी वाले सिर्फ झूठ कहते हैं. कभी भगवान ने झूठ बोलने वाले को ऊपर बुलाया, तो बीजेपी का कोई नेता धरती पर नहीं बचेगा.’

शिवसेना नेता के इस बयान पर फिलहाल बीजेपी की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. न ही अघाड़ी गठबंधन की दूसरे सहयोगी दल एनसीपी और कांग्रेस की तरफ से कुछ कहा गया है.

महाराष्ट्र ग्राम पंचायत के चुनाव में बीजेपी ने भी बेहतर प्रदर्शन किया है. अगर बीजेपी के दावे को ही सही मान लिया जाए, तब भी यह साफ है कि शिवसेना के नेतृत्व वाला सत्ताधारी गठबंधन महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सबसे बड़े गठबंधन के तौर पर उभरी है.
महाराष्ट्र के 34 जिलों की 13833 ग्राम पंचायत सीटों पर चुनाव हुआ था, जिसमें से 13769 सीट्स के नतीजे सोमवार यानी 18 जनवरी की शाम तक घोषित किए जा चुके थे. घोषित नतीजों के मुताबिक बीजेपी को सबसे अधिक 3263 सीटों पर जीत मिली है. वहीं, एमवीए सरकार का नेतृत्व कर रही शिवसेना को 2808, कांग्रेस को 2151 और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) को 38 सीटों पर जीत हासिल हुई है. बीजेपी ने बड़ी संख्या में अपने समर्थित निर्दलीय उम्मीदवारों की जीत का दावा करते हुए कहा है कि कुल मिलाकर उसे 5721 सीटें मिली हैं. दूसरी तरफ एमवीए में शामिल घटक दलों की कुल सीटें देखें तो 7958 पहुंचती हैं.

READ:  कोरोना वैक्सीन की उम्मीद बढ़ी, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी का टेस्ट अगली स्टेज पर

बीजेपी के इन नेताओं के समर्थित उम्मीदवार हारे
बीजेपी को कुछ झटके भी लगे हैं. प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रावसाहब दानवे पाटिल, कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए राधाकृष्ण विखे पाटिल व राम शिंदे जैसे दिग्गज नेताओं के क्षेत्रों में समर्थिंत उम्मीदवारों को हार का मुंह भी देखना पड़ा है.

गढ़चिरौली में 20 जनवरी को होगी मतगणना
महाराष्ट्र के 34 जिलों में 15 जनवरी को 12,711 ग्राम पंचायतों के चुनाव के लिए 79 प्रतिशत मतदान हुआ था. बीते साल 11 दिसंबर को 14,234 ग्राम पंचायतों के चुनाव की घोषणा हुई थी, लेकिन कुछ स्थानीय निकायों में निर्विरोध प्रत्‍याशी चुन लिए थे. राज्‍य का नक्सल प्रभावित जिला गढ़चिरौली की छह तालुकाओं की 162 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान 20 जनवरी को किया जाएगा.

MCD के खस्ताहाल का हवाला दे सिसोदिया ने केंद्र से मांगे 12000 करोड़, कहा- J&K की तर्ज पर मिले आर्थिक मदद

निर्वाचन आयुक्त ने एक बयान जारी करते हुए बताया कि , ‘15 जनवरी 2021 को 12,711 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान किया गया था. गढ़चिरौली में मतगणना 22 जनवरी को की जाएगी, जबकि अन्‍य जिलों में मतगणना 18 जनवरी को होगी.’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here