Mumbai: कोर्ट में आरोपी ने कहा कि वो मुंबई का रहना वाला है और उसके खिलाफ कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है. साथ ही उसने ये भी कहा कि वो सारे नियम और शर्ते मानने को तैयार है.

मुंबई. पिछले दिनों मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने एक शख्स को गिरफ्तार किया था. आरोप था कि उसने एक बिल्डर को जान (Attempet to Murder) से मारने की कोशिश की. लेकिन कोर्ट ने 30 साल के युवक को जमानत पर फिलहाल रिहा कर दिया है. दरअसल पुलिस ने आरोपी शख्स के पास से जो हथियार बरामद किया था वो कोई पिस्टल नहीं थी बल्कि सिगरेट जलाने का लाइटर था.

अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक आरोपी का नाम फरहान सैयद है. उसे 29 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था. पुलिस का कहना है कि किसी बिल्डर को उसने 45 लाख रुपये का लोन दिया था. लेकिन बिल्डर ने उसे समय पर पैसे वापस नहीं किए. आरोप है कि उसने बिल्डर पर गोली चला दी.

कोर्ट में आरोपी का तर्क
कोर्ट में आरोपी ने कहा कि वो मुंबई का रहना वाला है और उसके खिलाफ कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है. साथ ही उसने ये भी कहा कि वो सारे नियम और शर्ते मानने को तैयार है. इसी के आधार पर उसे जमानत मिल गई. हालांकि बिल्डर नासिर शेख ने आरोपी की जमानत का विरोध किया.

क्या है पूरा मामला?
ये घटना 28 नवंबर की है. बिल्डर अपने साले के साथ फरहान सैयद के पास पहुंचा. इन दोनों ने उसे पैसे वापस करने के लिए और वक्त मांगा. लेकिन सैयद इसके लिए तैयार नहीं हुआ. दोनों पक्षों के बीच बहस शरू हो गई. बिल्डर ने कहा कि सैयद ने दनादन दो गोलियां दाग दींं. एक गोली सोफे पर लगी. जबकि दूसरी गोली पर वो बाल-बाल बच गए. बिल्डर ने इसके बाद सैयद के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी. साथ ही उसने पुलिस को वो गोली भी दी जो उन पर चलायी गयी थी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here